Blogs Home / Blogs / राजस्थान ज्ञान कोष प्रश्नोत्तरी लेखक - डॉ. मोहन लाल गुप्ता / राजस्थान ज्ञानकोश प्रश्नोत्तरी : राजस्थान में नदियाँ
  • राजस्थान ज्ञानकोश प्रश्नोत्तरी : राजस्थान में नदियाँ

     06.12.2021
    राजस्थान ज्ञानकोश प्रश्नोत्तरी : राजस्थान में नदियाँ

    राजस्थान ज्ञानकोश प्रश्नोत्तरी - 23

    राजस्थान ज्ञानकोश प्रश्नोत्तरी : राजस्थान में नदियाँ

    अरावली की उपस्थिति तथा भारतीय प्रायद्वीप के धरातल का दक्षिण की ओर ढलान होने के कारण राजस्थान में नदियों की बड़ी संख्या है किंतु चम्बल को छोड़कर एक भी ऐसी नदी नहीं है जिसमें वर्ष भर जल बहता है। इस कारण राज्य में नदियों को जोड़ने की योजना आरम्भ की गई है ताकि एक नदी का जल दूसरी नदी से होते हुए राज्य के विभिन्न भागों में बहे। ऐसा करने से कृषि एवं पशुपालन को बढ़ावा मिलेगा तथा भूगर्भीय जल में भी वृद्धि होगी।

    1.प्रश्नः राजस्थान की नदियाँ किस ओर बहती हैं?

    उत्तरः राजस्थान की अधिकांश नदियाँ प्रदेश के मध्य में स्थित अरावली पर्वत माला से निकल कर पश्चिम अथवा पूर्व की ओर बहती हैं।

    2.प्रश्नः पश्चिम की ओर बहने वाली नदियाँ कहाँ जाकर समाप्त होती हैं?

    उत्तरः पश्चिम भाग की नदियाँ अरब सागर की ओर जाने वाले ढलान पर बहती हुई या तो खंभात की खाड़ी में गिरती हैं या विस्तृत मरु प्रदेश में विलीन हो जाती हैं।

    3.प्रश्नः पूर्व की ओर बहने वाली नदियाँ कहाँ जाकर समाप्त होती हैं?

    उत्तरः पूर्व की ओर बहने वाली नदियाँ एक दूसरे से मिलती हुई अंत्तः यमुना नदी में मिल जाती हैं।

    4.प्रश्नः प्रदेश के दक्षिणी-पूर्वी भाग में कौनसी नदियाँ प्रवाहित होती हैं?

    उत्तरः प्रदेश के दक्षिणी-पूर्वी भाग में चम्बल तथा उसकी सहायक नदियाँ मुख्य रूप से प्रवाहित होती हैं।

    5.प्रश्नः पश्चिमी राजस्थान में कौनसी नदियाँ प्रवाहित होती हैं?

    उत्तरः पश्चिमी राजस्थान में लूनी तथा उसकी सहायक नदियाँ बहती हैं। इनमें से कोई भी नित्य प्रवाही नदी नहीं हैं।

    6.प्रश्नः राज्य की सर्वाधिक नदियाँ किस संभाग में बहती हैं? उत्तरः कोटा संभाग। 7.प्रश्नः राज्य में सर्वाधिक नदियाँ किस जिले में हैं? उत्तरः चित्तौड़गढ़ जिले में।

    8.प्रश्नः राज्य की प्रमुख नदियाँ कौनसी हैं?

    उत्तरः चम्बल, लूनी, बनास, माही, घग्घर, सोम तथा जाखम राजस्थान की प्रमुख नदियाँ हैं।

    9.प्रश्नः पूर्वी राजस्थान की मुख्य नदी कौनसी है?

    उत्तरः चम्बल

    10.प्रश्नः पश्चिमी राजस्थान की मुख्य नदी कौनसी है?

    उत्तरः लूनी (लूणी)

    11.प्रश्नः अरब सागर की ओर बहने वाली नदियाँ कौनसी हैं?

    उत्तरः लूणी, माही, सोम, जाखम, साबरमती एवं पश्चिमी बनास। ये नदियाँ अरब सागरीय अपवाह तंत्र का अंग हैं।

    12.प्रश्नः गंगा-यमुना दोआब की ओर बहने वाली नदियाँ कौनसी हैं?

    उत्तरः चम्बल, बनास, कालीसिंध, कोठारी, खारी, मेजा, मोरेल, बाणगंगा और गंभीरी।

    13.प्रश्नः कौनसी नदियाँ बंगाल की खाड़ी अपवाह तंत्र का अंग हैं?

    उत्तरः गंगा-यमुना दोआब की ओर बहने वाली नदियाँ अर्थात्- चम्बल, बनास, कालीसिंध, कोठारी, खारी, मेजा, मोरेल, बाणगंगा और गंभीरी।

    14.प्रश्नः आंतरिक अपवाह वाली नदियाँ कौनसी हैं?

    उत्तरः घग्घर, सोता-साहिबी, काकणी, मेढां, खण्डेल व कांटली।

    15.प्रश्नः किन जिलों में एक भी नदी नहीं बहती?

    उत्तरः बीकानेर तथा चूरू।

    इस विषय पर विभिन्न परीक्षाओं में पूछे गए

    प्रश्न 1 आर.ए.एस. मुख्य परीक्षा-2010, खारी नदी जिस अपवाह तंत्र का अंग है, वह है- अ. अरब सागरीय ब. आन्तरिक अपवाह स. अनिश्चित अपवाह द. बंगाल की खाड़ी? ऽ आर.ए.एस. मुख्य परीक्षा-1997, राजस्थान की प्रमुख छः नदियों के नाम बताईये।

    2 आर.ए.एस. मुख्य परीक्षा-1991, राजस्थान की चार प्रमुख नदियों के नाम बताईये। प्रश्न: राज्य की प्रमुख नदियों के उद्गम स्थल बताइए-


    16.प्रश्नः चम्बल

    उत्तरः जनापाव पहाड़ी, महू (मध्यप्रदेश)।

    17.प्रश्नः बनास

    उत्तरः खमनौर की पहाड़ियाँ, कुंभलगढ़ (राजसमंद जिला)।

    18.प्रश्नः लूणी

    उत्तरः नाग पहाड़, अरावली पर्वत (अजमेर जिला)।

    19.प्रश्नः माही नदी

    उत्तरः विंध्याचल पहाड़ियाँ, झाबुआ (मध्यप्रदेश)।

    20.प्रश्नः पार्वती नदी

    उत्तरः विंध्याचल पर्वत (मध्यप्रदेश)।

    21.प्रश्नः काली सिंध नदी

    उत्तरः वागली गाँव, देवास (मध्यप्रदेश)।

    22.प्रश्नः घग्घर नदी

    उत्तरः कालका की पहाड़ियाँ, शिमला (हिमाचल प्रदेश)।

    23.प्रश्नः बाणगंगा नदी

    उत्तरः बैराठ की पहाड़ियाँ (जयपुर जिला)।

    24.प्रश्नः साबरमती नदी

    उत्तरः पदराड़ा की पहाड़ियाँ, कुंभलगढ़ (उदयपुर जिला)।

    25.प्रश्नः कोठारी नदी

    उत्तरः देवास, उदयपुर।

    26.प्रश्नः काकनी नदी

    उत्तरः कोटरी की पहाड़ियाँ, जैसलमेर।

    27.प्रश्नः कांतली नदी

    उत्तरः खण्डेला पहाड़ियाँ, सीकर।

    28.प्रश्नः बेड़च नदी

    उत्तरः गोगुंदा की पहाड़ियाँ, उदयपुर।

    29.प्रश्नः सोम नदी

    उत्तरः बीछामेड़ा, उदयपुर।

    30.प्रश्नः जाखम नदी

    उत्तरः छोटी सादड़ी के निकट भंवरमाता की पहाड़ियों से।

    31 प्रश्न: राज्य की प्रमुख नदियों की लम्बाई बताइए- 

    उत्तरः चम्बल  966 किलोमीटर।

    32.प्रश्नः लूणी

    उत्तरः 320 किलोमीटर।

    33.प्रश्नः बनास

    उत्तरः 512 किलोमीटर।

    34.प्रश्नः कालीसिंध

    उत्तरः 278 किलोमीटर।

    35.प्रश्नः माही

    उत्तरः 576 किलोमीटर।

    36.प्रश्नः बेड़च

    उत्तरः 190 किलोमीटर।

    37.प्रश्नः घग्घर

    उत्तरः 465 किलोमीटर।

    38.प्रश्नः कोठारी

    उत्तरः 145 किलोमीटर।

    39.प्रश्नः बाणगंगा

    उत्तरः 380 किलोमीटर।

    प्रश्न: राज्य के उन नगरों के नाम बताइए जो विभिन्न नदियों के तट पर स्थित हैं-

    40.प्रश्नः भीलवाड़ा

    उत्तरः कोठारी

    41.प्रश्नः टोंक

    उत्तरः बनास

    42.प्रश्नः नाथद्वारा

    उत्तरः बनास

    43.प्रश्नः अनूपगढ़

    उत्तरः घग्घर

    44.प्रश्नः सुमेरपुर

    उत्तरः जवाई

    45.प्रश्नः विजयनगर

    उत्तरः खारी

    46.प्रश्नः बालोतरा

    उत्तरः लूणी

    47.प्रश्नः झालावाड़

    उत्तरः कालीसिंध

    48.प्रश्नः पाली

    उत्तरः बांडी

    49.प्रश्नः हनुमानगढ़

    उत्तरः घग्घर

    50.प्रश्नः सूरतगढ़

    उत्तरः घग्घर

    51.प्रश्नः सवाईमाधोपुर

    उत्तरः बनास

    52.प्रश्नः शिवगंज

    उत्तरः जवाई

    53.प्रश्नः गुलाबपुरा

    उत्तरः खारी

    54.प्रश्नः जालोर

    उत्तरः सूकड़ी

    55.प्रश्नः कोटा

    उत्तरः चम्बनदी जल बंटवारे हेतु राजस्थान के अंतर्राज्यीय समझौते

    56.प्रश्नः रावी-व्यास जल बंटवारे में राजस्थान का कितना हिस्सा है?

    उत्तर - 1981 में राजस्थान और पंजाब के बीच रावी-व्यास नदियों के जल का बंटवारा हुआ था। राजस्थान को 8.60 एम.ए.एफ. (मिलियन एकड़ फुट) पानी मिलना चाहिये था किंतु पंजाब शुरू से ही पानी कम छोड़ रहा है। इस कारण 1981 से 2007 तक की अवधि में राजस्थान को 10 हजार करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। इंदिरा गांधी नहर से सिंचित होने वाले क्षेत्र में एक हैक्टेयर क्षेत्र में प्रतिवर्ष लगभग 40 क्विण्टल गेहूँ, 15 क्विण्टल कपास और ढाई क्विण्टल सरसों पैदा होती है। राजस्थान को विगत 15 साल में नौ मिलियन एकड़ फीट पानी कम मिला है। इस पानी से एक लाख 20 हजार हैक्टेयर भूमि पर 15 साल में कुल 7200 करोड़ रुपये की गेहूँ और 3200 करोड़ रुपये की सरसों की फसल ली जा सकती थी।

    57.प्रश्नः यमुना जल समझौते में राजस्थान का कितना हिस्सा है?

    उत्तर - यमुना नदी का 0.91 एमएएफ पानी यमुना जल समझौते के अंतर्गत आवंटित हुआ था। इसके बाद अपर यमुना रीवर बोर्ड द्वारा ओखला हैडवर्क्स पर 0.44 एमएएफ तथा ताजेवाला हैडवर्क्स पर 0.47 एमएएफ दिया जाना तय किया गया। वर्तमान में ओखला हैड पर 0.32 एमएएफ जल ही मिल रहा है जो कुल आवंटन से 0.59 एमएएफ कम है।

    58.प्रश्नः माही जल समझौते में राजस्थान का कितना हिस्सा है?

    उत्तर - राजस्थान और गुजरात के मध्य 1966 में हुए माही जल समझौते के अनुसार राजस्थान को 0.37 एमएएफ जल एवं गुजरात को 0.92 एमएएफ जल आवंटित हुआ। समझौते के अनुसार गुजरात को नर्मदा जल उपलब्ध होने के बाद उसके हिस्से का 0.92 जल भी राजस्थान को पुनः उपलब्ध करवाना था किंतु गुजरात द्वारा वह जल नहीं लौटाया गया है।

    59.प्रश्नः नर्मदा जल समझौते में राजस्थान का कितना हिस्सा है?

    उत्तर - नर्मदा जल विवाद अभिकरण के दिसम्बर 1979 के अवार्ड के अनुसार राजस्थान को 0.5 एमएएफ जल आवंटित हुआ था। गुजरात द्वारा यह जल नियमित रूप से दिया जा रहा है। इसके उपयोग के लिये जालौर एवं बाड़मेर जिलों में नर्मदा नहर परियोजना का निर्माण कार्य जारी है। राज्य में नदियाँ जोड़ने की योजना

    60.प्रश्न - राज्य का जलसंसाधन विभाग राज्य की किन छः नदियों को जोड़ेगा?

    उत्तर - चम्बल, ब्राह्मणी, ईरू, मांगली, भीमलत और मेज।

    61.प्रश्न - छः नदियों को जोड़ने के लिये कितनी राशि का प्रोजेक्ट तैयार किया गया है?

    उत्तर - 5,442 करोड़ रुपये का।

    62.प्रश्न - इस योजना से क्या लाभ होगा?

    उत्तर - (1.) जयपुर, अजमेर, कोटा, बूँदी, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़ एवं टोंक जिलों के लगभग 80 लाख लोगों को पेयजल एवं इन जिलों के किसानों को सिंचाई हेतु पानी मिल सकेगा। (2.) कोटा एवं धौलपुर जिलों में बाढ़ पर रोक लगेगी। (3.) जवाहर सागर एवं कोटा बैराज बाँधों के भर जाने से पानी व्यर्थ नहीं बहेगा।

    63.प्रश्न - छः नदियों को किस प्रकार जोड़ा जायेगा?

    उत्तर - चित्तौड़गढ़ से बहकर चम्बल में जाने वाली ब्राह्मणी को बनास से जोड़ेंगे। इसका पानी बनास के माध्यम से बीसलपुर बाँध में पहुंचेगा। इस कार्य के लिये ब्राह्मणी पर चित्तौड़गढ़ जिले के दौलतपुरा के निकट बाँध बनाया जायेगा जिससे रामगढ़ (जहाजपुर-भीलवाड़ा) के पास तक 71 किमी दूर बनास में पानी पहुंचेगा। इससे लगभग 205 मिलियन क्यूबिक मीटर पानी बनास में डाला जा सकेगा। दौलतपुरा से जहाजपुर के बीच यह चैनल ईरू, मांगली, भीमलत और मेज नदियों को भी आपस में जोड़ेगा। चम्बल नदी से भी एक लिंक चैनल द्वारा लगभग 252 एमसीएम पानी बीसलपुर लाया जायेगा। कोटा बैराज से विगत 22 वर्षों में औसतन 1142 एमसीएम पानी व्यर्थ बहा। इसमें से भी कुछ पानी ब्राह्मणी के माध्यम से बीसलपुर लाया जायेगा। इस कार्य के लिये तीन टनलें भी बनाई जायेंगी जिनकी लम्बाई क्रमशः 46.8, 3.10 और 13.2 किलोमीटर होगी।


  • Share On Social Media:
Categories
SIGN IN
Or sign in with
×
Forgot Password
×
SIGN UP
Already a user ?
×