Blogs Home / Blogs / राजस्थान ज्ञान कोष प्रश्नोत्तरी लेखक - डॉ. मोहन लाल गुप्ता / राजस्थान ज्ञानकोश प्रश्नोत्तरी : राजस्थान में पंचायती राज
  • राजस्थान ज्ञानकोश प्रश्नोत्तरी : राजस्थान में पंचायती राज

     04.12.2021
    राजस्थान ज्ञानकोश प्रश्नोत्तरी : राजस्थान में पंचायती राज

    राजस्थान ज्ञानकोश प्रश्नोत्तरी - 12

    राजस्थान ज्ञानकोश प्रश्नोत्तरी : राजस्थान में पंचायती राज

    राजस्थान में पंचायती राज व्यवस्था बहुत पुरानी है। संभवतः गुप्तकाल में भी यह किसी रूप में मौजूद थी। भारत की आजादी के बाद पं. जवाहरलाल नेहरू ने देश में पंचायती राज व्यवस्था लागू की। 2 अक्टूबर 1959 को राजस्थान के नागौर जिले से इस व्यवस्था का उद्घाटन हुआ। राजस्थान में त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था है जिसके अंतर्गत सबसे नीचे ग्राम पंचायत, खण्ड स्तर पर पंचायत समिति तथा जिला स्तर पर जिला परिषद की व्यवस्था है।

    1.प्रश्नः किस राज्य में देश में सर्वप्रथम पंचायती राज व्यवस्था आरम्भ हुई?

    उत्तरः राजस्थान।

    2.प्रश्नः राजस्थान में ग्रामीण स्तर पर पंचायती राज अधिनियम कब लागू हुआ था?

    उत्तरः 1953 में।

    3.प्रश्नः बलवंतराय मेहता समिति का गठन कब एवं किस उद्देश्य से किया गया?

    उत्तरः 1957 में गाँवों के सर्वांगीण विकास हेतु पंचायती राज संस्थाओं की भूमिका निर्धारित करने हेतु।

    4.प्रश्नः बलवंतराय मेहता समिति ने अपनी रिपोर्ट कब दी एवं क्या सुझाव दिया?

    उत्तरः समिति ने 1959 में रिपोर्ट दी तथा त्रिसूत्रीय पंचायती राज व्यवस्था का सुझाव दिया।

    5.प्रश्नः राजस्थान में पंचायती राज व्यवस्था कब आरम्भ हुई?

    उत्तरः 2 अक्टूबर 1959 को प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने नागौर जिले में पंचायती राज व्यवस्था का शुभारंभ किया।

    6.प्रश्नः राजस्थान सरकार ने राजस्थान पंचायत समिति और जिला परिषद् अधिनियम कब लागू किया?

    उत्तरः ई.1959 में।

    7.प्रश्नः राज्य में त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था कब आरंभ हुई?

    उत्तरः ई.1959 में।

    8.प्रश्नः पंचायती राज की स्थापना का क्या उद्देश्य है?

    उत्तरः राज्य में लोकतांत्रिक विकेन्द्रीकरण की भावना को मूर्त रूप देते हुए सामुदायिक विकास कार्यों में सक्रिय भागीदारी उत्पन्न कर ग्रामीण विकास करना।

    9.प्रश्नः 1953 एवं 1959 के पंचायती राज अधिनियमों में क्या अंतर था?

    उत्तरः राजस्थान पंचायत अधिनियम 1953 केवल पंचायतों से सम्बन्धित था, राजस्थान पंचायत समिति और जिला परिषद् अधिनियम 1959 पंचायत समितियों एवं जिला परिषदों से सम्बन्धित था।

    10.प्रश्नः 73वां संविधान संशोधन कब किया गया?

    उत्तरः 24 अप्रेल 1993 को।

    11.प्रश्न - 73वां संविधान संशोधन की मुख्य बातें क्या थीं?

    उत्तर - 1. पंचायती राज संस्थाओं को संवैधानिक दर्जा दिया गया। 2. ग्राम सभा को भी वैधानिक दर्जा दिया गया। 3. पाँच वर्षों में चुनावों की अनिवार्यता कर दी गयी। 4. 20 लाख से अधिक आबादी वाले राज्यों में त्रिस्तरीय पंचायत व्यवस्था अनिवार्य कर दी गयी। 5. पंचायत समितियों एवं जिला परिषदों के सदस्यों का निर्वाचन प्रत्यक्ष रूप से मतदाताओं द्वारा करने का प्रावधान किया गया। 6. महिलाओं को एक तिहाई आरक्षण की व्यवस्था की गयी।

    12.प्रश्नः राजस्थान सरकार ने राज्य में पंचायती राज व्यवस्था के लिये नया अधिनियम कब बनाया?

    उत्तरः वर्ष 1994 में।

    13.प्रश्नः राजस्थान पंचायती राज अधिनियम 1994 ने किन अधिनियमों को प्रतिस्थापित कर दिया?

    उत्तरः राजस्थान पंचायत अधिनियम 1953 तथा राजस्थान पंचायत समिति और जिला परिषद् अधिनियम 1959

    14.प्रश्नः राजस्थान में पंचायती राज के तीनों स्तरों के लिये अब कितने अधिनियम हैं?

    उत्तरः केवल एक- राजस्थान पंचायती राज अधिनियम 1994

    15.प्रश्नः राजस्थान पंचायती राज अधिनियम 1994 में कितनी धाराएँ हैं?

    उत्तरः 124 धाराएँ।

    16.प्रश्नः राजस्थान पंचायती राज अधिनियम 1994 में अब तक कितने संशोधन किये जा चुके हैं?

    उत्तरः 2

    17.प्रश्नः प्रथम संशोधन कब किया गया एवं यह क्या था?

    उत्तरः प्रथम संशोधन सितम्बर 1994 में किया गया जिसके द्वारा अन्य पिछड़े वर्ग के लिये आरक्षण की व्यवस्था की गयी।

    18.प्रश्नः द्वितीय संशोधन कब किया गया एवं यह क्या था?

    उत्तरः दूसरा संशोधन दिसम्बर 1994 में हुआ जिसमें दो बच्चों से अधिक बच्चे होने पर पंचायती राज संस्थाओं में चुनाव लड़ने की छूट दी गयी।

    19.प्रश्नः राज्य सरकार ने पंचायती राज संस्थाओं को कितने विषय हस्तांतरित कर दिये हैं?

    उत्तरः 31 मार्च 1999 को राज्य सरकार ने भारत के संविधान के अनुच्छेद 243 जी के अंतर्गत 11वीं अनुसूची में वर्णित 29 विषयों को पंचायती राज संस्थाओं को हस्तांतरित कर दिया।

    20.प्रश्नः धारा 17 में क्या प्रावधान है?

    उत्तरः धारा 17 के अनुसार राज्य में पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव हर पाँच वर्ष में करवाने अनिवार्य हैं।

    21.प्रश्नः प्रत्येक ग्राम पंचायत पर साथिन की नियुक्ति कब हुई?

    उत्तरः 1 जुलाई 2003 से राज्य सरकार ने साथिन नियुक्त करने की घोषणा की।

    22.प्रश्नः त्रि-स्तरीय पंचायती राज व्यवस्था क्या है?

    उत्तरः ग्राम स्तर पर ग्राम पंचायत, विकास खण्ड स्तर पर पंचायत समिति और जिला स्तर पर जिला परिषद होती है।

    23.प्रश्नः ग्राम पंचायत, पंचायत समिति और जिला परिषद का कार्यकाल कितना होता है?

    उत्तरः 5 वर्ष।

    24.प्रश्नः ग्राम पंचायत, पंचायत समिति और जिला परिषद में किनके लिये आरक्षण की व्यवस्था है?

    उत्तरः अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं महिलाओं के लिये आरक्षण की व्यवस्था की गयी है।

    25.प्रश्नः पंचायती राज संस्थाओं में महिलाओं के लिये कितने आरक्षण की व्यवस्था की गई है?

    उत्तरः 25 मार्च 2008 को राजस्थान सरकार ने पंचायती राज एक्ट 1994 के सेक्शन 15 एवं 16 में संशोधन करके महिलाओं के लिये 50 प्रतिशत आरक्षण की व्यवस्था की।

    26.प्रश्नः इससे पूर्व राजस्थान की पंचायती राज संस्थाओं में महिलाओं को कितना आरक्षण प्राप्त था?

    उत्तरः 33 प्रतिशत।

    27.प्रश्नः राजस्थान ग्रामीण विकास राज्य सेवा का गठन किस उद्देश्य से किया गया है?

    उत्तरः राजस्थान सरकार ने वर्ष 2008 में पंचायती राज संस्थाओं में काम करने के लिये अलग से राजस्थान ग्रामीण विकास राज्य सेवा का गठन किया।

    28.प्रश्न - पंचायती राज संस्थाओं को हस्तांतरित मुख्य विषय कौनसे हैं?

    उत्तर - प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं उपकेंद्रों का नियंत्रण,जन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण कार्यक्रम, गैर परम्परागत ऊर्जा स्रोतों से जुड़े कार्यक्रम, हैण्डपंप संधारण, वन सुरक्षा समिति का चयन, उप पशु चिकित्सा केन्द्रों का नियंत्रण, डी श्रेणी के मछली तालाबों का संधारण, जल ग्रहण क्षेत्र विकास कार्यक्रम में सहभागिता, कृषि विस्तार कार्य, उचित मूल्य की दुकानों का आवण्टन एवं नियंत्रण, अनुसूचित जाति व जन जाति छात्रावासों का पर्यवेक्षण, आंगनवाड़ी केंद्रों का संचालन, प्रौढ़ शिक्षा, अनौपचारिक शिक्षा, सिंचाई विभाग के 200 एकड़ तक के तालाबों का संधारण, खादी पर्यवेक्षक का प्रशासनिक नियंत्रण।

    इस विषय पर विभिन्न परीक्षाओं में पूछे गए प्रश्न आर.ए.एस. प्री. 2013/2015- संविधान में कौनसा भाग पंचायत से सम्बन्धित है- (1.) भाग-आठ, (2.) भाग-नौ, (3.) भाग-नौ ए, (4.) भाग-नौ बी। उत्तर- भाग-नौ। पुलिस सब इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा 2007, भारतीय संविधान के किस अनुच्छेद के अन्तर्गत पंचायत चुनावों में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण दिया गया है- 51/61/73/243 ? आर.ए.एस. मुख्य परीक्षा वर्ष 1999, निम्न के बारे में आप क्या जानते हैं- साथिन ? आर.ए.एस. मुख्य परीक्षा वर्ष 1997- राजस्थान में लागू नये पंचायती राज अधिनियम की तुलना पुराने अधिनियम से करें तथा नये अधिनियम में किये गये प्रमुख परिवर्तनों पर प्रकाश डालें। आर.ए.एस. मुख्य परीक्षा वर्ष 1996, संक्षिप्त टिप्पणियां लिखिये- राजस्थान में नया पंचायती राज अधिनियम। आर.ए.एस. मुख्य परीक्षा वर्ष 1987-राजस्थान में पंचायती राज व्यवस्था की उपलब्धियों तथा कमियों का विस्तार से वर्णन कीजिये। जिला परिषद

    29.प्रश्नः राजस्थान में कितनी जिला परिषदें हैं।

    उत्तरः 33

    30.प्रश्नः जिला परिषदों में कितने जिला परिषद सदस्य हैं।

    उत्तरः 997

    31.प्रश्नः जिला परिषद किसके निर्देशन में कार्य करती हैं?

    उत्तरः जिला परिषद जिला प्रमुख के निर्देशन में कार्य करती है जिसमें जिला परिषद सदस्य चुनकर आते हैं।

    32.प्रश्नः जिला परिषद का गठन किस आधार पर किया गया है?

    उत्तरः प्रत्येक जिले में एक।

    33.प्रश्नः जिला परिषद के पदेन सदस्य कौन होते हैं?

    उत्तरः जिले की पंचायत समितियों के प्रधान, जिले से निर्वाचित विधानसभा सदस्य, जिले से निर्वाचित लोकसभा एवं राज्यसभा सदस्य तथा जिला कलक्टर।

    34.प्रश्नः जिला परिषद पर प्रशासनिक नियंत्रण किसका होता है?

    उत्तरः मुख्य कार्यकारी अधिकारी। पंचायत समिति

    35.प्रश्नः राजस्थान में कितनी पंचायत समितियां हैं?

    उत्तरः 295

    36.प्रश्नः पंचायत समितियों में कितने सदस्य हैं?

    उत्तरः 5,257

    37.प्रश्नः पंचायत समिति किसके निर्देशन में कार्य करती हैं?

    उत्तरः पंचायत समिति प्रधान के निर्देशन में कार्य करती है जिसमें पंचायत समिति सदस्य चुनकर आते हैं।

    38.प्रश्नः पंचायत समिति का गठन किस आधार पर होता है?

    उत्तरः विकास खण्ड स्तर पर पंचायत समिति का गठन होता है।

    39.प्रश्नः पंचायत समिति सदस्य का चुनाव कितनी आयु वाला पंजीकृत मतदाता लड़ सकता है?

    उत्तरः 21 वर्ष।

    40.प्रश्नः पंचायत समिति में पदेन सदस्य कौनसे होते हैं?

    उत्तरः खण्ड में आने वाली समस्त ग्राम पंचायतों के सरपंच तथा उस क्षेत्र के विधायक पंचायत समिति के पदेन सदस्य होते हैं 41.प्रश्नः पंचायत समिति प्रधान का चुनाव कैसे होता है?

    उत्तरः पंचायत समिति के सभी पदेन एवं मनोनीत सदस्य व विकास खण्ड की समस्त ग्राम पंचायतों के पंच मिलकर करते हैं। 42.प्रश्नः पंचायत समिति प्रधान की जिला परिषद में क्या भूमिका होती है?

    उत्तरः पंचायत समिति प्रधान जिला परिषद का पदेन सदस्य होता है।

    43.प्रश्नः पंचायत समिति में विकास खण्ड अधिकारी की क्या भूमिका होती है?

    उत्तरः पंचायत समिति में विकास खण्ड अधिकारी सरकारी प्रतिनिधि होता है।

    इस विषय पर विभिन्न परीक्षाओं में पूछे गए प्रश्न 1 आर.ए.एस. मुख्य परीक्षा वर्ष 1999, राजस्थान में पंचायत समितियों के गठन व उनकी कार्यप्रणाली पर अपने विचार व्यक्त कीजिये। ग्राम पंचायत

    44.प्रश्नः राजस्थान में कितनी ग्राम पंचायतें हैं?

    उत्तरः 9,900

    45.प्रश्नः ग्राम पंचायतों में कितने वार्ड पंच हैं?

    उत्तरः 1,03,712

    46.प्रश्नः ग्राम पंचायत किसके निर्देशन में कार्य करती हैं?

    उत्तरः ग्राम पंचायत सरपंच के निर्देशन में कार्य करती है जिसमें वार्ड सदस्य चुनकर आते हैं।

    47.प्रश्नः सरपंच की अनुपस्थिति में कौन कार्य करता है?

    उत्तरः उपसरपंच।

    48.प्रश्नः ग्राम पंचायत का गठन किस आधार पर किया गया है?

    उत्तरः लगभग 8 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में 2 से 5 हजार की आबादी पर एक ग्राम पंचायत की स्थापना की गयी है।

    49.प्रश्नः राजस्थान पंचायत राज अधिनियम 1994 में ग्राम पंचायत में कितने सरपंच एवं पंचों की व्यवस्था है?

    उत्तरः 3 हजार तक की आबादी वाली ग्राम पंचायत में एक सरपंच एवं नौ पंचों की व्यवस्था की गयी है।

    50.प्रश्नः पंचों की संख्या कैसे निर्धारित की जाती है?

    उत्तरः आबादी के अनुपात में 8 से 11 के बीच।

    51.प्रश्नः राज्य में ग्राम पंचायतों की सर्वाधिक संख्या किस जिले में है?

    उत्तरः उदयपुर जिले में 498 ग्राम पंचायतें।

    52.प्रश्नः पंच तथा सरपंच का चुनाव कौन करते हैं?

    उत्तरः ग्रामीण मतदाता।

    53.प्रश्नः पंचायत की बैठकों की अध्यक्षता कौन करता है?

    उत्तरः सरपंच।

    54.प्रश्नः ग्राम पंचायत का सचिव कौन होता है?

    उत्तरः ग्राम पंचायत में ग्राम सेवक सरकारी सदस्य होता है तथा वह ग्राम पंचायत के सचिव के रूप में कार्य करता है।

    55.प्रश्न - ग्राम पंचायतों के प्रमुख कार्य क्या हैं?

    उत्तरः गाँव के विकास की योजनायें बनाना, जन्म मृत्यु का ब्यौरा रखना, प्राथमिक एवं प्रौढ़ शिक्षा की व्यवस्था करना, चिकित्सा प्रबंध, कृषि उपज बढ़ाने के उपाय, सहकारी समितियों तथा कुटीर उद्योगों का विकास आदि।

    56.प्रश्न - यदि आरक्षित वर्ग के सरपंच के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव आता है तो पंचायत का कार्यभार किसे दिया जाता है?

    उत्तरः आरक्षित वर्ग के सरपंच के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव आने पर उसके स्थान पर सामान्य वर्ग के उपसरपंच को कार्यभार नहीं दिया जाकर उसी आरक्षित वर्ग के उपसरपंच अथवा पंच को दिया जाता है।

    57.प्रश्न - पंचायत दिवस कार्यक्रम क्या है?

    उत्तरः ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग की विकास योजनाओं को गति देने के लिये 6 जून 2014 से पंचायत दिवस कार्यक्रम आरंभ किया गया है। इस कार्यक्रम के तहत हर शुक्रवार को राज्य की प्रत्येक पंचायत समिति के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारी किन्हीं दो ग्राम पंचायतों में जाकर विकास कार्य करवाते हैं।

    इस विषय पर विभिन्न परीक्षाओं में पूछे गए प्रश्न आर.ए.एस. प्रारंभिक परीक्षा 2007, पंचायतों को संवैधानिक दर्जा कौनसे अनुच्छेद में प्रदान किया गया है- (1.) अनुच्छेद 226 (1.) अनुच्छेद 243 (1.) अनुच्छेद 239 (1.) अनुच्छेद 219 ? ग्राम सभा 58.प्रश्नः ग्राम सभा का गठन किस स्तर पर किया गया है?

    उत्तरः प्रत्येक ग्राम पंचायत में एक ग्रामसभा का गठन किया गया है।

    59.प्रश्नः ग्राम सभा के सदस्य कौन होते हैं?

    उत्तरः पंचायत क्षेत्र की मतदाता सूची के सभी व्यक्ति।

    60.प्रश्नः ग्राम सभा/वार्ड सभा की बैठक की वैधता के लिये कोरम में कितने मतदाता उपस्थित होने चाहिये?

    उत्तरः 1/10 61.

    61 प्रश्नः धारा 3 के अनुसार सरपंच/उपसरपंच को वर्ष में न्यूनतम कितनी बार ग्रामसभा की बैठक बुलानी होती है?

    उत्तरः दो बार।

    62.प्रश्नः वार्ड सभा की बैठक वर्ष में कम से कम कितनी बार बुलानी आवश्यक है?

    उत्तरः दो बार।

    इस विषय पर विभिन्न परीक्षाओं में पूछे गए प्रश्न आर.ए.एस. प्री. 2013/2015- राजस्थान पंचायती राज (संशोधन) विधेयक 2015 राजस्थान विधानसभा ने 27 मार्च 2015 को पारित कर दिया। इसमें स्थानीय उम्मीदवारों की पात्रता के लिए प्रावधान किया गया है- (1.) उनके घरों में शौचालय होना चाहिये, (2.) जिला परिषद की सदस्यता के लिये बी. ए. की डिग्री आवश्यक है। (3.) पंचायत समिति के लिये 10 वीं कक्षा पास होना आवश्यक है। (4.) सरपंच के लिये क्रमशः 8वीं कक्षा तथा अनुसूचित क्षेत्रों में उम्मीदवारों का 5वीं कक्षा पास होना आवश्यक है। उत्तर-विकल्प 1, 3, 4 सही हैं। अधिशासी अधिकारी भर्ती संवीक्षा भर्ती परीक्षा 2008, संविधान के किस अनुच्छेद के अंतर्गत जिला योजना समिति का गठन किया जायेगा?


  • Share On Social Media:
Categories
SIGN IN
Or sign in with
×
Forgot Password
×
SIGN UP
Already a user ?
×