Blogs Home / Blogs / राजस्थान के प्रमुख संग्रहालय / अध्याय - 65 राजीव गांधी क्षेत्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय
  • अध्याय - 65 राजीव गांधी क्षेत्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय

     21.12.2018
    अध्याय - 65 राजीव गांधी क्षेत्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय

    अध्याय - 65

    राजीव गांधी क्षेत्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय

    राजीव गांधी क्षेत्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय, राष्ट्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय नई दिल्ली का आंचलिक केन्द्र है और भारत सरकार के वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के अधीन आता है। प्राकृतिक इतिहास को संजोकर रखने वाला यह संग्रहालय, देश में अपनी तरह का पांचवा संग्रहालय है। अन्य संग्रहालय दिल्ली, भोपाल, भुवनेश्वर और मैसूर में हैं। प्राकृतिक इतिहास राजीव गांधी क्षेत्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय का उद्घाटन 1 मार्च 2014 को रामसिंहपुरा (जिला सवाईमाधोपुर) में किया गया। इस संग्रहालय को तैयार करने में लगभग साढ़े वर्ष का समय लगा।

    संग्रहालय का भवन, स्थापत्य कला का अद्भुत उदाहरण है।यह संग्रहालय विद्यार्थियों एवं जिज्ञासुओं के लिए ज्ञान का खजाना एवं आकर्षण का प्रमुख केन्द्र है। इस संग्रहालय में प्रकृति की प्रमुख विरासतों को संजोकर रखा गया है। इस संग्रहालय में विभिन्न जीव-जंतुओं की तस्वीरें, सुंदर मूर्तियां और प्रकृति के विभिन्न रंगों को समेटने वाली पेंटिग्स की अद्भुत प्रदर्शनी देखने योग्य है। 7.2 एकड़ में फैले इस संग्रहालय में जैव विविधता को बेहतर ढंग से समझने के लिए कई वस्तुएं हैं। यह संग्रहालय शैक्षिक महत्व के साथ-साथ पेड़-पौधों और पशु-पक्षियों के बीच के सम्बन्धों को सरल ढंग से दिखाता है। इस संग्रहालय में एक लघु पुस्तकालय भी है जिसमें जीव-जंतुओं और पेड़-पौधों पर आधारित 10 हजार से अधिक पुस्तकें हैं।

    राजीव गांधी क्षेत्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय में प्रदर्शित पश्चिमी घाट की जैव विविधता, राष्ट्रीय पार्क के जीव-जंतु, भारत की जन जातियां, जीव-जंतु की दीर्घाएं ज्ञान का अनुपम भंडार हैं। संग्रहालय में दिन में दो बार, वन्य जीवों पर बनी फिल्मों का प्रदर्शन किया जाता है। राजीव गांधी म्यूजियम में जैव विविधता के दर्शन के साथ अन्य कई सुविधाएं हैं। यहाँ का पुस्तकालय, ईको थिएटर, सभागार एवं पेटिंग्स देखने योग्य हैं।

    संस्थान द्वारा जिला एवं राज्य स्तर की विज्ञान प्रतियोगिताओं का आयोजन करवाया जाता है। पर्यावरण के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने के लिए समय-समय पर प्रदर्शनियों का आयोजन करवाया जाता है।

  • अध्याय - 65

    "/> अध्याय - 65

    "> अध्याय - 65

    ">
    Share On Social Media:
Categories
SIGN IN
Or sign in with
 
×
Forgot Password
×
SIGN UP
Already a user ?
×