Blogs Home / Blogs / सम-सामयिक
  • बचाना होगा भारत के पारिवारिक और सामाजिक ढांचे को

     07.06.2017
    बचाना होगा भारत के पारिवारिक और सामाजिक ढांचे को

    लंदन के लेगटम संस्थान और ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन ने उनासी मानकों के आधार पर विश्व के एक सौ चार देशों का रिपोर्ट कार्ड तैयार किया है। इन देशों में विश्व की नब्बे प्रतिशत आबादी रहती है और इस सूची में भारत को पैंतालीसवां स्थान मिला है। सामाजिक मूल्यों के मामले में भारत को विश्व में पहले स्थान पर रखा गया है।

    Read More
  • जो बोया था, वही काट रहे हैं मुलायमसिंह

     07.09.2018
    जो बोया था, वही काट रहे हैं मुलायमसिंह

    भारतीय राजनीति में प्रतिदिन ऐसा कुछ विक्षुब्धकारी घटित होता है कि कोई भी लेखक कम्प्यूटर का की-बोर्ड और माउस उठाने के लिये विवश हो जाये। (पहले के लेखक कलम उठाते थे) मैं सामान्यतः राजीनीतिक लेखन नहीं करता हूँ किंतु यदि कोई घटना इतिहास की झलक दिखाती है तो राजनीति पर लिखने से परहेज भी नहीं करता। भारतीय राजनीत

    Read More
  • भगवान सूर्य की पत्नी के नाम से विख्यात क्षेत्र तालिबानियों ने हड़प लिया

     21.08.2017
    भगवान सूर्य की पत्नी के नाम से विख्यात क्षेत्र तालिबानियों ने हड़प लिया

    भगवान सूर्य की पत्नी के नाम से विख्यात क्षेत्र तालिबानियों ने हड़प लिया पाकिस्तान के धुर पश्चिम में स्वात क्षेत्र स्थित है। यह हरी-भरी पहाडि़यों वाला अत्यंत सुंदर क्षेत्र है। इसीलिये इसे स्वात कहा जाता है। स्वात शब्द;स्वाति; का अपभ्रंश है जिसका अर्थ होता है- सूर्य की पत्नी। यह क्षेत्र सचमुच इतना सुंदर ह

    Read More
  • यदि चीन ने भारत पर आक्रमण किया तो क्या होगा!

     07.06.2017
    यदि चीन ने भारत पर आक्रमण किया तो क्या होगा!

    चीनी मीडिया ने जैसी धमकी दी है, यदि ऐसा कभी भी नहीं हो तो ही ठीक है परन्तु ईश्वर न करे यदि चीन कभी हम पर आक्रमण कर दे तो..... देश के भीतर क्या दृश्य होगा- - नेता लोग अपनी गाडि़यों में बैठकर किसी सुरक्षित अण्डर ग्राउण्ड की तलाश में निकल पड़ेंगे। - पुलिस के जवान, नेताओं की गाडि़यां सुरक्षित स्थान पर जा सकें, इसके लिये

    Read More
  • सबके अपने-अपने कोट -

     21.08.2017
    सबके अपने-अपने कोट -

    भारत की मूल परम्परा बिना सिले हुए कपड़े पहनने की रही है। बिना सिली हुई मर्दानी धोती, औरतों की लांगदार धोती और बिना लांग की साड़ी, बिना सिले हुए उत्तरीय, साफे, लंगोटी और दुपट्टे में ही आम भारतीय का जीवन मजे में कटता था। यह तो नहीं कहा जा सकता कि जब मुसलमान इस देश में आये तोे वे अपने साथ पहली बार सिला हुआ कपड़ा ले

    Read More
  • बाबूजी धीरे चलना.... आगे टोल नाका है!!!!

     21.08.2017
    बाबूजी धीरे चलना.... आगे टोल नाका है!!!!

    बाबूजी धीरे चलना.... आगे टोल नाका है!!!!

    ये तो कमाल हो गया! जयपुर-अजमेर टोल नाके पर ऐसी विचित्र घटना घटी कि दुकादार तो मेले में लुटे और तमाशबीन अपना सामान बेच गये। राज्य में कानून के मालिक तो हैं विधायक लोग किंतु टोल नाके के कर्मचारियों ने, इन मालिकों से ही लगातार दो दिन तक दो-दो बार गैरकानूनी बदतमीजी करक

    Read More
  • इस्लामिक स्टेट में सूफी संतों के लिये जगह नहीं होगी!

     21.08.2017
    इस्लामिक स्टेट में सूफी संतों के लिये जगह नहीं होगी!

    इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एण्ड सीरिया के नाम से चल रहे मध्य एशियाई आतंकी संगठन ने पाकिस्तान में सूफी मत के संत की मजार पर 108 लोगों को मौत के घाट उतार कर एक बार फिर पूरी दुनिया को संदेश दिया है कि इस्लामिक स्टेट में सूफी मत के लिये कोई जगह नहीं होगी। ऊपरी तौर पर तो ऐसा ही लगता है कि यह मामला इतना ही है किंतु मामला के

    Read More
  • युवाओं को संवदेना विहीन बनाती है रैगिंग!

     21.08.2017
    युवाओं को संवदेना विहीन बनाती है रैगिंग!

    रैगिंग पाश्चात्य जीवन शैली की कुछ अत्यंत बुरी बुराइयों में से है, जिसे भारतीयों ने कुछ अन्य बुराईयों की तरह जबर्दस्ती ओढ़ लिया है। यह अपने आप में इतनी बुरी है कि हम विगत कई वर्षाें से प्रयास करने के उपरांत भी इसे महाविद्यालयों एवं विश्वविद्यालयों से समाप्त नहीं कर पाये हैं। इसका क्या कारण है! रैगिंग के जा

    Read More
  • हम भारतीयों को डोनाल्ड ट्रम्प से प्रसन्न होना चाहिये क्योंकि....

     21.08.2017
     हम भारतीयों को डोनाल्ड ट्रम्प से प्रसन्न होना चाहिये क्योंकि....

     हम भारतीयों को डोनाल्ड ट्रम्प से प्रसन्न होना चाहिये क्योंकि....

    ट्रम्प के डर से पाकिस्तान ने हाफिज सईद को नजरबंद किया है उसके बैंक खाते सीज किये हैं और हाफिज को पाकिस्तान से बाहर निकलने पर रोक लगाई है।

    ट्रम्प के डर से पाकिस्तान ने उन आतंकी समूहों को ढूंढ-ढूंढकर मारा है जिन्होंने सिंध में एक सू

    Read More
  • जिंदा है जो इज्जत से वो इज्जत से मेरगा!

     21.08.2017
    जिंदा है जो इज्जत से वो इज्जत से मेरगा!

      साठ के दशक में आई मदर इण्डिया फिल्म के गीत जन-जन की जिह्वा पर थे जिसके एक गीत की एक पंक्ति यह भी थी कि जिंदा है जो इज्जत से वो इज्जत से मरेगा............ किंतु देश में जैसा वातावरण बनाया जा चुका है, उसमें ऐसा लगता है कि जिंदा है जो विवादों में वो रातों रात मीडिया में छा जायेगा..... इज्जत से जियेगा.. बुद्धिजीवी कहलायेगा...

    Read More
Categories
SIGN IN
Or sign in with
 
×
Forgot Password
×
SIGN UP
Already a user ?
×