Blogs Home / Blogs / पाकिस्तान का संक्षिप्त इतिहास / पाकिस्तान का संक्षिप्त इतिहास . 5
  • पाकिस्तान का संक्षिप्त इतिहास . 5

     03.06.2020
    पाकिस्तान का संक्षिप्त इतिहास . 5

    1933 में पाकिस्तान शब्द का आविष्कार हुआ-

    हमारी नई वैबसाइट - भारत का इतिहास - www.bharatkaitihas.com

    ई.1933 में रहमत अली नामक एक विद्यार्थी ने एक प्रस्ताव तैयार किया जिसमें कहा गया कि भारतीय मुसलमानों को अपना राज्य हिन्दुओं से अलग कर लेना चाहिये। रहमत अली ब्रिटेन में रहकर स्नातक स्तर का अध्ययन कर रहा था और उस समय उसकी आयु 40 वर्ष थी। उसने अपने प्रस्ताव में कहा कि भारत को अखण्ड रखने की बात अत्यंत हास्यास्पद और फूहड़ है। भारत के जिन उत्तर पश्चिमी क्षेत्रों- पंजाब, कश्मीर, सिंध, सीमांत प्रदेश तथा ब्लूचिस्तान में मुसलमानों की संख्या अधिक है, उन्हें अलग करके पाकिस्तान नामक देश बनाया जाना चाहिये।

    रहमत अली के प्रस्ताव का समापन इन शब्दों के साथ हुआ था- हिन्दू राष्ट्रीयता की सलीब पर हम खुदकुशी नहीं करेंगे। कैंब्रिज विश्वविद्यालय के भारतीय मुस्लिम विद्यार्थियों ने भी रहमत अली का साथ दिया। उन्होंने एक इश्तहार प्रकाशित किया जिसमें कहा गया- "पाकिस्तान नाउ ऑर नेवर।" इस इश्तहार में कहा गया कि भारत किसी एक अकेले राष्ट्र का नाम नहीं है। न ही एक अकेले राष्ट्र का घर है। वास्तव में यह इतिहास में पहली बार ब्रिटिश सरकार द्वारा निर्मित एक राष्ट्र की उपाधि है। इस इश्तहार में कहा गया कि मुसलमानों की जीवन शैली भारत के अन्य लोगों से भिन्न है। इसलिये उनका अपना राष्ट्र होना चाहिये।

    हमारे राष्ट्रीय रिवाज और कैलेंडर अलग हैं। यहाँ तक कि हमारा खान-पान तथा परिधान भी भिन्न है। रहमत अली ने "पाकिस्तान" शब्द के दो अर्थ बताये- पहले अर्थ के अनुसार पाकिस्तान माने पवित्र भूमि। दूसरे अर्थ के अनुसार पाकिस्तान शब्द का निर्माण उन प्रांतों के नामों की अंग्रेजी वर्णमाला के प्रथम अक्षरों की तुकबंदी से बना हुआ बतलाया गया जो इसमें शामिल होने चाहिये- पंजाब, अफगानिया (उत्तर पश्चिमी सीमा प्रांत), काश्मीर तथा सिंध। शेष शब्द बलूचिस्तान शब्द के अंतिम भाग में से लिये गये।

    बाद में देश के पूर्वी भाग में स्थित असम तथा बंगाल और दक्षिण में स्थित हैदराबाद तथा मलाबार को भी पाकिस्तान में शामिल करने की योजना बनायी गयी। इस योजना के अनुसार संपूर्ण गैर मुस्लिम राष्ट्र को मुस्लिम देश द्वारा घेरा जाना था तथा गैर मुस्लिम राष्ट्र के बीच बीच में मुस्लिम पॉकेट भी पाकिस्तान का हिस्सा होना था।

    हमारी नई वैबसाइट - भारत का इतिहास - www.bharatkaitihas.com

  • 1933 में पा"/> 1933 में पा"> 1933 में पा">
    Share On Social Media:
Categories
SIGN IN
Or sign in with
×
Forgot Password
×
SIGN UP
Already a user ?
×